टेक्सास होल्डम क्वाड्स ऑड्स

टेक्सास होल्डम क्वाड्स ऑड्स

time:2021-10-25 10:34:29 भारत में सितंबर में 16,500 से ज्यादा नयी कंपनियों का पंजीकरण Views:4591

आईपीएल पॉइंट टेबल 2019 टेक्सास होल्डम क्वाड्स ऑड्स betway हॉर्स रेसिंग,fun88 थू लिन्हो,lovebet 50,lovebet इंडोनेशिया,lovebet थेपोग,3 रील स्लॉट शून्य,बैकारेट बी जोड़ी,बैकरेट पिंग बेट मुफ्त खरीदता है,टेनिस में सर्वश्रेष्ठ पांच,बीटीविन ई बाइक,कैसीनो अर्थ,शतरंज मंच,क्रिकेट की किताबें 2020,क्रिकेट क्षेत्र,यूरोपीय कप फाइनल 4,फुटबॉल सट्टेबाजी स्टेशन,गा लॉटरी ऐप,खुश किसान लोगो,आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी,जैकपॉट APK,ला खेल समाचार,लाइव मनोरंजन कौशल,लॉटरी भाग्यशाली,एम लवबेट कॉम gh,ऑनलाइन कैसीनो बोनस bez vkladu,ऑनलाइन गेम यूनो मल्टीप्लेयर,ऑनलाइन स्लॉट नो डिपॉजिट फ्री स्पिन,पोकर 3 अक्षर शब्द,पोकर वाई अजेड्रेज़,रूले मिट्टी के बर्तनों,रम्मी फिल्म,एस कैसीनो केंद्र Blvd,स्लॉट यात्रा 2,राजस्थान में खेल कोटा,किशोर पत्ती भारतीय पोकर,सट्टेबाजों की नवीनतम रैंकिंग,आभासी क्रिकेट किट,वाइल्डज़ और कैक्सिनो,lovebetफिल्में,करीना वारिस,क्रिमसन बॉल,जीतने के लिए बैकरेट कैसे खेलें,पैसे के लिए पंजीकृत बैकारेट,बरसात शायरी इन हिंदी,रम्मी ताश गेम,स्टेटस फॉर व्हात्सप्प, .भारत में सितंबर में 16,500 से ज्यादा नयी कंपनियों का पंजीकरण

नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक सितंबर में देश में 16,570 नयी कंपनियों का पंजीकरण हुआ, जिससे सक्रिय कंपनियों की कुल संख्या 14.14 लाख से ज्यादा हो गयी।

कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय के आंकड़ों से पता चला है कि 30 सितंबर तक देश में कुल 22,32,699 कंपनियां पंजीकृत थीं।

कंपनी अधिनियम, 2013 के अनुसार इनमें से 7,73,070 कंपनियां बंद हो गयीं, 2,298 निष्क्रिय हो गयीं, 6,944 तरलता के अधीन थी और 36,110 बंद होने की प्रक्रिया में थीं।

मंत्रालय के कॉरपोरेट क्षेत्र से जुड़े मासिक सूचना बुलेटिन के अनुसार, 30 सितंबर तक देश में 14,14,277 सक्रिय कंपनियां थीं।

मंत्रालय ने सितंबर 2019 से सितंबर 2021 के बीच नयी कंपनियों के पंजीकरण के विश्लेषण का हवाला देते हुए कहा कि आंकड़ों से पता चलता है कि कंपनियों का मासिक पंजीकरण अप्रैल 2020 में 3,209 के सबसे निचले स्तर को छूने के बाद से बढ़ा है।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts
Under the lens

How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts

10 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read

2020 में कई बड़े स्‍मार्टफोन ट्रेंड देखने को मिले हैं. इनमें 100x जूम, 65 वॉट चार्जिंग, लिडार कैमरा, डॉल्‍बी विजन वीडियो, 7000 एमएएच बैटरी के अलावा कई और शामिल हैं. क्‍या आप जानना चाहेंगे कि भारत में इन फीचरों की शुरुआत किसने की है और ऐसे स्‍मार्टफोन ब्रांडों की कीमत कितनी है? यहां हम आपको इनके बारे में बता रहे हैं.सरकार ने शुक्रवार को ओला और उबर जैसी कैब एग्रीगेटर कंपनियों के ऊपर मांग बढ़ने पर किराए बढ़ाने की एक सीमा लगा दी है.कपड़ा क्षेत्र में 'ब्रांड इंडिया' के निर्माण के लिए सरकार-उद्योग को साथ काम करने की जरुरत: रिपोर्ट

नयी दिल्ली 24 अक्टूबर (भाषा) सरकार द्वारा संचलित सीएससी ई-गवर्नेंस इंडिया लिमिटेड (सीएससी एसपीवी) ने रविवार को कहा कि उसे पुराने वाहनों की बिक्री के लिए 'अनापत्ति प्रमाण पत्र' (एनओसी) जारी करने को लेकर अधिकृत किया गया है। सीएससी ने इस सुविधा को पूरे भारत में उपलब्ध कराने के लिए राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के साथ समझौता किया है। यह सेवा देश में चार लाख सीएससी फ्रेंचाइजी में उपलब्ध होगी। सीएससी एसपीवी की तरफ से जारी एक बयान के अनुसार केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने एनसीआरबी के निदेशक रामफल पवार और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में इस सेवाऑडी इंडिया ने इस साल घरेलू बाजार में क्यू8, ए8 एल, आरएस 7 स्पोर्टबैक, आरएस क्यू8, क्यू8 सेलिब्रेशन और क्यू2 मॉडल पेश किए हैं.आईसीएआई के अध्यक्ष ने सदस्यों से हिंदी को अपनाने, बढ़ावा देने को कहा; आलोचना के स्वर उठे

मारुति सुजुकी इंडिया, फोर्ड इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी वाहन कंपनियां भी जनवरी से अपने वाहनों के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुकी हैं.कीमतों में यह बढ़ोतरी विभिन्‍न मॉडलों में अलग-अलग होगी. यह वास्‍तव में कितनी होगी, इस बारे में जल्‍द ही डीलरों को बताया जाएगा.Paytm IPO: हर्ष गोयनका ने शेयर किया पेटीएम के सीईओ का डांस वाला वीडियो, लेकिन असली मजा तो इसके कमेंट्स में छुपा है!

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
तीन पत्ती ताश वाला गेम

मारुति सुजुकी इंडिया, फोर्ड इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी वाहन कंपनियां भी जनवरी से अपने वाहनों के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुकी हैं.

स्पोर्ट्स ओ रमा मैटीडेल न्यू

पहले ही कार बनाने वाली कई कंपनियां अपने-अपने मॉडलों के दाम बढ़ाने का एलान कर चुकी हैं. ये जनवरी से गाड़‍ियों के दाम बढ़ाएंगी. इन कंपनियों में मारुति सुजुकी, फोर्ड, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रेनॉ शामिल हैं.

जोकर भूत

नयी दिल्ली 24 अक्टूबर (भाषा) सरकार द्वारा संचलित सीएससी ई-गवर्नेंस इंडिया लिमिटेड (सीएससी एसपीवी) ने रविवार को कहा कि उसे पुराने वाहनों की बिक्री के लिए 'अनापत्ति प्रमाण पत्र' (एनओसी) जारी करने को लेकर अधिकृत किया गया है। सीएससी ने इस सुविधा को पूरे भारत में उपलब्ध कराने के लिए राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के साथ समझौता किया है। यह सेवा देश में चार लाख सीएससी फ्रेंचाइजी में उपलब्ध होगी। सीएससी एसपीवी की तरफ से जारी एक बयान के अनुसार केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने एनसीआरबी के निदेशक रामफल पवार और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में इस सेवा

चैस ऑनलाइन

पिछले सप्ताह फोर्ड इंडिया ने एक जनवरी से अपने विभिन्न मॉडलों की कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की थी.

lovebet भाग्यशाली 7

मारुति सुजुकी इंडिया, फोर्ड इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी वाहन कंपनियां भी जनवरी से अपने वाहनों के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुकी हैं.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
लॉटरी 6 रुपये

नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) उद्योग मंडल पीएचडीसीसीआई ने रविवार को कहा कि आर्थिक पुनरुद्धार के जोर पकड़ने के साथ उसे आने वाली तिमाहियों में मजबूत जीडीपी वृद्धि की उम्मीद है। उद्योग मंडल द्वारा ट्रैक किए गए क्यूईटी (क्विक इकोनॉमिक ट्रेंड्स) के 12 प्रमुख आर्थिक और कारोबारी संकेतकों में से नौ ने सितंबर 2021 में क्रमिक वृद्धि में तेजी दिखायी है जबकि अगस्त में छह संकेतकों में ऐसा हुआ था। पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (पीएचडीसीसीआई) के अध्यक्ष प्रदीप मुल्तानी ने कहा, "हाल के महीनों में प्रमुख आर्थिक और कारोबारी संकेतकों में तेजी से पता चलता है कि आर्थिक पुनरुद्धार